Wednesday, November 25, 2020
Home Quotes stories Girl's life.....!

Girl’s life…..!

इस लॉकडाउन के अंतर्गत हमें एक स्त्री का जीवन क्या होता है? यह एहसास हुआ कि स्त्री का जीवन इतना आसान नहीं जितना हम समझते हैं उन्हें बहुत कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है , अपने घर में अपनी माताजी को देख सकते हैं वह हफ्ते के सातों दिन काम करती हैं बिना किसी शिकायत के।

हम लड़की के जीवन को देखे जो शादी के बाद दूसरे घर में जाएगी, भले ही उस घर में कोई परेशानी ना हो परंतु फिर भी उसे अपने घर की तो याद आती है कि वह कैसे अपने भाई बहन के साथ लड़ती थी, जो मन करे वह करती थी, एक रानी की तरह अपने घर में राज करती थी परंतु जब वह दूसरे घर (ससुराल) जाती है तो उसे अपनी सारी आदतें छोड़नी पड़ती हैं। जो कभी सुबह 8:00 बजे उठती थी उसे अब सुबह 6:00 बजे प्रातः उठना पड़ता है, सभी को खुश रखना पड़ता है।

कभी-कभी बिना गलती के भी सुनना पड़ता है, भले ही उसका पार्टनर (हस्बैंड),अच्छा हो उसे समझता हो परंतु यह तो नहीं हो सकता कि वह पूरे दिन उसके साथ रहे, फिर उसे बिना मन के भी सबके साथ खुश रहना पड़ता है,उनके हिसाब से चलना पड़ता है, अपनी सारी आदतें एकदम बदलनी पड़ती है, इस समय तब उसे अपने घर की बहुत याद आती है।

एक लड़की का जीवन सुबह से शाम तक पूरा घर संभालने में चला जाता है, अगर ऑफिस वाली हो तो घर ,ऑफिस और बच्चों सब को बहुत समझदारी से संभालना पड़ता है और वो इसे अच्छे से सँभालने की पूरी कोशिश भी करती हैं, परंतु वही काम एक पुरुष को दिया जाए तो उतना काम कर पाना उनके लिए थोड़ा मुश्किल हो जाता है।

स्त्री के साहस का एहसास आप को लॉकडाउन के अंदर जरूर महसूस कर रहे होंगे कि सच में एक औरत में कितनी ताकत होती है कितना सब कुछ करके भी कुछ नहीं कहती क्योंकि वह उसका परिवार है।

also read :- motivaltional quotes

हम लॉकडाउन में सोच रहे हैं हमें कैद कर रखा है, कभी लड़कियों के बारे में सोचा है वह तो पूरी जिंदगी लॉकडाउन में रहती हैं और कभी शिकायत नहीं करती तो सोचो उनकी जिंदगी कितनी मुश्किल रहती है परंतु तब भी वह खुश रहती हैं, इससे हम अनुमान लगा सकते हैं कि एक नारी का जीवन इतना आसान नहीं है।


इतनी सभी मुसीबतों में भी जो खुश रहे वह अंदर से कितना मजबूत होता होगा और यह बात भी आपने कभी पड़ी ,सुनी या एहसास किया हो अंदर से मजबूत वही होता है जिसने बड़ी बड़ी मुसीबतों का सामना किया होता है।

आजकल की सोशल मीडिया लाइफ में अधिकतम लोग सोशल मीडिया पर मिलते हैं ,वही प्यार होता है परंतु जब लड़कों का दिल टूटता है तो वह पागल से हो जाते हैं वह किसी को अपने पास नहीं देखना चाहते बस अकेले रहना चाहते हैं परंतु कभी भी आपने ऐसी परिस्थिति को एक स्त्री के जीवन से relate किया है कि जो इंसान हमारे साथ दो, चार या छह साल रहा उसके बिछड़ने से ऐसा हाल हो जाता है तो सोचो एक नारी जो अपने जीवन के 20- 25 साल की सभी आदतों को एक साथ छोड़ देती है तो उसे कितना दुख होता होगा कभी यह सोचना जरूर।

किसी भी नारी को अपशब्द कह के अपमान ना करें, जिस घर में स्त्री खुश रहती हैं, प्रसन्न रहती हो उस घर में हमेशा ईश्वर की कृपा बनी रहती है।

पति और पत्नी को एक दूसरे का दोस्त बनकर रहना चाहिए और हर स्थिति परिस्थिति में एक दूसरे से मनोविश्लेषण करना चाहिए और एक दूसरे का साथ देना चाहिए और एक दूसरे की इज्जत करनी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Current Affairs 2 sept. 2020

HINDI CURRENT AFFAIRS HINDI CURRENT AFFAIRS AND MOST IMPORTANT CONTENT FOR UPCOMING EXAMS लुईस हैमिल्टन...

महिला समानता दिवस : 26 अगस्त

महिला समानता दिवस हर साल 26 अगस्त को मनाया जाता है। महिला समानता की सबसे पहली शुरुआत न्यूजीलैंड ने 1893 में की...

गणेश चतुर्थी 2020

गणेश चतुर्थी कब मनाई जाती है?? भाद्र मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को...

कृष्ण जन्माष्टमी 2020

कृष्ण जन्माष्टमी ( KRISHNA JANMASTMI ) कृष्ण जन्माष्टमी भगवान श्री कृष्ण के जन्मदिन के उपलक्ष पर बनाई जाती है...

Recent Comments